01165657890, 011-65577890 09871657890

a9@urag@gmail.com

+91 9810398128

a9@urag@gmail.com

Blog Bhakti Sadhna

BLOG

जानिए भानगढ़ किले का राज़

भूत -प्रेतो की कहानियाँ सुनने और पढ़ने में बहुत ही रोमांचकारी होती है पर जरा सोचिये इस तरह की कोई घटना आप के साथ हो तो आपका रोमांच तो वही आपका दम तोड़ दे....

29 September 2016 - 10:25 am

केवल इस योद्धा के विनाश के लिए महाभारत युद्ध में श्री कृष्ण ने उठाया सुदर्शन च्रक

वेदों और पुरणों में महाभारत युद्ध का जिक्र है जो की 18 दिन चला था इस युद्ध में कौरव और पांडव का आमना सामना हुआ था और इसी युद्ध के बाद कलयुग का आगमन हुआ था । लेकिन इस युद्ध में एक समय आया जब भगवान श्री कृष्ण को अपना सुदर्शन चक्र उठना पड़ा था । आइये जानते है की

28 September 2016 - 09:50 am

महाभारत के सबसे बड़े योद्धा कर्ण-अर्जुन इन 4 कारणों से बन गए एक दूसरे के दुश्मन!

महाभारत के सबसे बड़े योद्धा कर्ण-अर्जुन इन 4 कारणों से बन गए एक दूसरे के दुश्मन।।।।।

26 September 2016 - 05:25 am

इन 6 कामों से कम होती है मनुष्य की उम्र

महाभारत में एक प्रसंग आता है जब राजा धृतराष्ट्र महात्मा विदुर से मनुष्य की आयु कम होने का कारण पूछते हैं। तब विदुर मनुष्य की आयु कम करने वाले 6 दोषों के बारे में धृतराष्ट्र को बताते हैं।

2016-06-13 03:58:40

You can see you World First Thing Collection

First TempleFirst Plane, First Railway, First Telephone, First Car, First Motor Cycle, First Cycle, First Smart Phone, हर इक अपनी सबसे पहली चीज के साथ हमेशा जुड़ा रहता है, जिसे देखते ही वो अपने बीते हुए जीवन की शुरआत को देखता है और अच्छा एहसास महसूस करता है की वो आज इस मुकाम पर है जहाँ वो पहले से और बेहतर परिस्थितियों में हैं

2016-05-12

क्या आज भी मिल सकता है अमृत?

अमर कौन नहीं होना चाहता? समुद्र मंथन में अमृत निकला। इसे प्राप्त करने के लिए देवताओं ने दानवों के साथ छल किया। देवता अमर हो गए। मतलब कि क्या समुद्र में ऐसा कुछ है कि उसमें से अमृत निकले? तो आज भी निकल सकता है?

2016-05-12

'त्रिदेवी' का रहस्य जानकर आप चौंक जाएंगे

सरस्वती, लक्ष्मी और पार्वती ये त्रिदेव की पत्नियां हैं। इनकी कथा के बारे में लोगों में बहुत भ्रम है। आज इसे पढ़िए और भ्रम को मिटाइयए। माता अम्बिका : ब्रह्मा, विष्‍णु और महेश को ही सर्वोत्तम और स्वयंभू मान जाता है। क्या ब्रह्मा, विष्णु और महेश का कोई पिता नहीं है? वेदों में लिखा है कि जो जन्मा या प्रकट है वह ईश्‍वर नहीं हो सकता। ईश्‍वर अजन्मा, अप्रकट और निराकार है।

2016-05-12